शयरोग (ट्यूबरक्लोसिस) का इलाज – Remedies for Tuberculosis

Published by KK on

टी.बी. एक संक्रमण बीमारी है।टी.बी.खासतौर पर हमारे फेफड़ों को संक्रमित करता है और इसका असर शरीर के बाकी अंगों पर भी होता है। लगातार 4 हफ्ते खासी ना रुके तो हमें टीबी की जांच करनी पड सकती है। यह बीमारी ट्यूबरक्लोसिस के बैक्टीरिया से होती है। यह बीमारी खतरनाक इसलिए है क्योंकि सही इलाज ना होने के कारण यह उस हिस्से को बेकार कर देती है। इसलिए इसका इलाज होना बेहद जरूरी है। टी.बी. के मरीज को हर वक्त पसीना आता है, हल्का बुखार रहता है और थकावट महसूस होती है। इसमें मरीज का वजन भी घटता रहता है। आज तो इसका इलाज एकदम आसान है। आयुर्वेद में इसका बहुत ही अच्छा इलाज बताया गया है, जिससे टी.बी. के मरीज स्वस्थ हो सकते।

  • अडूसा के पत्तों का और फूलों का रस दो चम्मच और दो चम्मच शहद एक साथ मिक्स करके पीने से 1 महीने में खांसी बंद हो जाती है और टी.बी. ठीक हो जाती है।
  • अर्जुन के छाल का चूर्ण अडूसा के पत्तों के रस में 24 घंटा भिगो के रखे और उसके बाद उसे सुखाए। यह 5 ग्राम चूर्ण 4 चम्मच शहद में मिक्स करके लेने से 1 महीने में टी.बी. ठीक हो जाता है।
  • बकरी के दूध में घी और खड़ी शक्कर मिलाकर पीने से टी.बी. रोग में फायदा होता है।
  • अदरक का रस दो चम्मच, सफेद प्याज का रस दो चम्मच, दो चम्मच शहद, शक्कर दो चम्मच और चिरचिरी की राख 5 ग्राम इन सबको एक साथ मिक्स करके लेने से 1 महीने में टी.बी. ठीक हो जाता है और खांसी भी ठीक हो जाती है।
  • सफेद प्याज का रस चार चम्मच, चार चम्मच शहद, गाय का दूध 1 कप और 20 ग्राम शक्कर एक साथ मिक्स करके पीने से 1 महीने में क्षय रोग ठीक हो जाता है।
  • 10 ग्राम धनिया, सुंठ 10 ग्राम और पाव लीटर पानी इनका काढ़ा करें और इस काढ़े को एक कप जितना होने पर उतार दे। उस काढ़े को छान के एक महीना सेवन करने से क्षय रोग ठीक हो जाता है।
  • 2 ग्राम पीपल का चूर्ण, 2 ग्राम शक्कर और 4 चम्मच शहद इन सभी को साथ लेने से इस बीमारी में आराम मिलता है।
  • जीरे का चूर्ण 5 ग्राम, हल्दी का चूर्ण 5 ग्राम, इलायची का चूर्ण 5 ग्राम, पीपल का चूर्ण 5 ग्राम, 5 ग्राम शक्कर, तुलसी के पत्तों का रस 4 चम्मच और 4 चम्मच शहद इन सब को मिक्स करके एक साथ लेने से टी.बी. और कफ ठीक हो जाता है।
  • पीपल का चूर्ण 5 ग्राम, 10 ग्राम शक्कर दो कप बकरी का दूध और दो कप पानी इन सब को एक साथ उबाले और दो कप बचने के बाद इसे ठंडा करें। यह उपाय करने से टी.बी. का रोग जल्दी ठीक हो जाता है।
  • पीपल का चूर्ण 10 ग्राम और 10 ग्राम गुड एक साथ मिक्स करके लेने से 1 महीने में टी.बी. और कफ ठीक हो जाता है।
  • सफेद मांदर के फूल सुखा के उसका 5 ग्राम चूर्ण, असगंध का चूर्ण 5 ग्राम एक कप बकरी के दूध में मिक्स करके पीने से 1 महीने में क्षय रोग ठीक हो जाता है।
  • 10 ग्राम खिला हुआ लहसुन एक कप छास में मिक्स करके लेने से टी.बी. ठीक हो जाता है।
  • करंजवा के बीज का चूर्ण 100 ग्राम, लहसुन 50 ग्राम, 50 ग्राम हींग, 50 ग्राम सेंधा नमक यह सब एक साथ मिक्स करें, और इसकी चने जितनी गोलियां बनाएं। हर बार 2 गोली गरम पानी के साथ 14 दिन लेने से टी.बी. ठीक हो जाता है।

यह आयुर्वेदिक उपाय करके टी.बी. के मरीज को ठीक किया जा सकता है।